Posts

Showing posts from 2015

HINDU PHILOSOPHY (9) हिन्दु दर्शन शास्त्र :: RITES-SANSKAR IN HINDUISM सनातन धर्म में संस्कार

Image
RITES-SANSKAR IN HINDUISM
सनातन धर्म में संस्कार    CONCEPTS & EXTRACTS IN HINDUISM  By :: Pt. Santosh Bhardwaj   dharmvidya.wordpress.com hindutv.wordpress.com jagatgurusantosh.wordpress.com santoshhastrekhashastr.wordpress.com  bhagwatkathamrat.wordpress.com  santoshkipathshala.blogspot.com   santoshsuvichar.blogspot.com    santoshkathasagar.blogspot.com bhartiyshiksha.blogspot.com   santoshhindukosh.blogspot.com संस्कार  ::  शुद्धिकरण अर्थात् मन, वाणी और शरीर का सुधार। मनुष्य की सारी प्रवृतियों का संप्रेरक मन में पलने वाला संस्कार होता है।व्यक्ति के चरित्र निर्माण में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका है।ये  सामाजिक-धार्मिक कृत्य किसी व्यक्ति को अपने समुदाय का पूर्ण रुप से योग्य सदस्य बनाने के उद्देश्य से उसके शरीर, मन और मस्तिष्क को पवित्र करने के साथ-साथ व्यक्ति में अभीष्ट गुणों को जन्म देना है।मनु और याज्ञवल्क्य के अनुसार संस्कारों से द्विजों के गर्भ और बीज के दोषादि की शुद्धि होती है। कुमारिल के अनुसार मनुष्य दो प्रकार से समाज के योग्य-उपयुक्त बनता है: (1). पूर्व जन्म के कर्म के दोषों को द…