ENGLISH CONVERSATION (10) अंग्रेजी हिन्दी बातचीत

DIRTY POLITICS IN INDIA

अंग्रेजी हिन्दी बातचीत :: IMPROVING ENGLISH

A TREATISE ON EDUCATION IN INDIA
By :: Pt. Santosh Bhardwaj
dharmvidya.wordpress.com  hindutv.wordpress.com  santoshhastrekhashastr.wordpress.com   bhagwatkathamrat.wordpress.com jagatgurusantosh.wordpress.com  santoshkipathshala.blogspot.com     santoshsuvichar.blogspot.com    santoshkathasagar.blogspot.com bhartiyshiksha.blogspot.com   

मैँ अंग्रेजी कैसे सुधार सकता हूँ?
maen angreji kaese sudhar sakta hun?
How can I improve my English.
हाउ कैन आई इम्प्रूव माई इंग्लिश 
यह नियमित अभ्यास से सम्भव है यानि पढ़ना, लिखना और बोलना 
yah niymit abhyas se sambhav hae yani padhna, likhna aur bolna.
It needs regular practice
 i.e., reading writing, speaking.
इट नीड्स रेगुलर प्रैक्टिस दैट इज रीडिंग, राइटिंग स्पीकिंग 
शब्द को देखो और हिज्जे करो उदाहरण के लिये wo-r-d व+र्+ड 
shabd ko dekho aur hijje kro udaharan ke liye word wo-r-d
Look at the word. connect
 the alphabets and speak
 e.g., wo-r-d
लुक एट द वर्ड एन्ड कनैक्ट द अल्फाबेट्स दैट इज वर्ड wo-r-d व+र्+ड 
टीवी पर हिन्दी और अंग्रेजी खबरें देखें-सुने। 
TV par Hindi aur angreji khabren dekhen-sune.
Listen-watch news both in Hindi & English over TV.
लिसन-वाच न्यूज़, बोथ इन हिन्दी एन्ड इंग्लिश।  
हिन्दी और अंग्रेजी, दोनों अख़बार पढ़ें। 
Hindi aur angregi donon akhbar padhen.
Read both Hindi & English.news papers.
रीड बोथ हिन्दी एंड इंग्लिश न्यूज़ पेपर्स। 
पोस्टर और बैनर पढ़ें। 
Posters aur banners padhen.
Read posters & banners.
रीड पोस्टर्स एंड बैनर्स। 
अपने मित्रों के साथ धीरे-धीरे अंग्रेजी में बातचीत करें। 
apne mitron ke saath dheere-dheere angreji mae batcheet kren.
Talk to your friends in English, slowly.
टॉक टु योर फ्रेंड्स इन इंग्लिश स्लोली। 
शुरू में आपकी अंग्रेजी अशुद्ध हो सकती है। 
shuru me apki angreji ashuddh ho skti hae .
Initially, you may not be correct grammatically.
इनिशियलि, यू मे नॉट बी करेक्ट ग्रामेटिकली।   
व्याकरण पर शुरू में ध्यान ने दें। 
vyakarn par dhyan ne daen.
Do not bother about grammar.
डुू नॉट बोदर अबाउट ग्रामर। 
अपने विचार, जरूर बताने की कोशिश करें। 
apne vichar jrur batane ki koshish kren.
Try to convey your ideas, needs.
ट्राई टु कन्वे योर आइडियाज नीड्स। 
विभिन्न देशों, क्षेत्रों में उच्चारण अलग है। 
vibhinn deshon, kshetron me uchcharn alag hae.
Accent-pronunciation is different for each region, country.
एक्सेंट-प्रोनन्सिएशन इज डिफरेंट फॉर ईच रीजन-कंट्री। 
ध्यान से सुनें और नकल करें। 
dhayan se sunen aur nakal kren.
Listen carefully and copy.
लिसन केयर फुलि एंड कॉपी 
शब्दों के साथ-साथ इशारों का प्रयोग भी कर सकते हैं। 
shabdon ke sath-sath isharon ka prayog bhi kar sakte haen.
Try to convey with actions, along with words.

अस्ट्रेलियन्स स्लैंग का प्रयोग कुछ ज्यादा ही करते है। 
Australian slaeng ka prayog kuchh jayada hi karte haen.
Australians use more slang-informal words.

अन्य देश के व्यक्ति के शब्दों पर विशेष ध्यान दें। 
anay desh ke vayakti ke shabdon par vishesh dhayan daen.
Listen to the words 
spoken by the nationals of other countries carefully.

जब तक आप उनकी बातचीत को लगातार, बार-बार नहीं सुनेंगे, बातचीत करना आसान नहीं होगा। 
jab tak aap unki batcheet ko lagatar, bar-bar nahin sunenge, batcheet karna asan nahin hoga.
Unless you listen to their talks-words-conversation repeatedly, it will not be possible to understand
 what they say-speak.

कुछ मानक शब्दों, वाक्यों को याद कर लें। 
kuchh manak shabdon ko yad kar len.
Learn some standard word and sentences.

बोलचाल की भाषा कोलोक्विअलि कहलाती है। 
bolchal ki bhasha colloquially kahlati hae.
Language used 
during conversation
 is called colloquially.  

अंग्रेजी विदेशी भाषा है। 
angreji videshi bhasha hae.
English is a foreign language.

हर देश में इसका उच्चारण अलग है। 
har desh me iska uchcharan alag hae.
Every country has its own different pronunciation
 and style. 

अंग्रेजों ने भारतीय संस्कृति को नष्ट करने के उद्देश्य से इसका प्रचार-प्रसार किया। 
angrejon ne bhartiy sanskrati ko nasht karne ke uddeshay se iska prachar-prasar kiya.
The British promoted it to destroy Indian culture.

अंग्रेज भारतीयों को अपने रंग में रंगने में सफल रहे। 
angrej bhartiyon ko apne rang me rangne mae safal rahe.
The British succeeded in converting Indians to their choice-mode.

भारतीय संस्कृति की जड़ें बहुत ही गहरी और मजबूत हैं। 
bhartiy sanskrati ki jaden bahut hi gahari aur majbuut haen.
The roots of Indian culture are very deep and strong.

आज अंग्रेजी का प्रयोग सनातन संस्कृति का प्रचार-प्रसार के लिए हो रहा है। 
aaj angreji ka prayog sanatan sanskrati ke prachar-prasar ke liye ho rha hae.
In the contemporary world, English is used to spread Hinduism-Hindutv, Indian culture abroad. 

दुनिया में प्रबुद्ध वर्ग इसे समझ रहा है। 
duniya me prabuddh varg ise samajh raha hae.
The progressive, learned, intelligent people are understanding it.

भारतीय संस्कृति पूर्णतया वैज्ञानिक और तर्क संगत है।
bhartiy sanskrati purntaya vaegyanik aur tark sangat hae.
Indian culture-traditions are fully-completely scientific.

अंग्रेजी में ऐसे हजारों शब्द हैं जो पूर्णतया संस्कृत से हैं या उनका अपभ्रंश हैं। 
angreji maen aese hajaron shabd haen jo purntaya sanskrat se haen ya unka apbhransh haen.
English has thousands of words which are from Sanskrat or their distorted-vague forms.

अंग्रेजी उच्चारण की दृष्टि से आधी-अधूरी भाषा है। 
angreji uchcharan ki drashti se adhi-adhuri bhasha hae.
In terms-respect of pronunciation, English is an incomplete-imperfect language.

लिखा कुछ जाता है और पढ़ा कुछ जाता है। 
likha kuchh jata hae aur padha kuchh jata hae.
You write something and read something else.

इंग्लैंड में स्पेलिंग-वर्तनी कुछ है तो अमेरिका में कुछ और।ऑस्ट्रेलिया में भी यही समस्या है। 
England maen spelling-vartani kuchh hae to America me kuchh aur. Australia maen bhi yahi samasya hae.
England has a different spelling and America has different spelling. Australia too has this problem.

जब ये लोग धीरे-धीरे रुक-रुक कर बोलते हैं तो, ठीक तरह से समझ में आ जाता है। 
jab ye log dheere-dheere ruk-ruk kar bolte haen to theek tarah se samajh maen ata hae.
When these people speak normally-slowly, one can understand it.

अंग्रेजी भाषा में आज हजारों नए शब्दों का समावेश किया जा रहा है जो, अन्यानेक भाषाओँ के हैं। 
angreji bhasha mae aj hajaron naye shabdon ka smavesh kiya ja raha hae.
In today's context, English is using-incorporating thousands of words from other languages.

आज की अंगेजी 300 साल पहले की अंगेजी से पूर्णतया भिन्न-अलग है। 
aj ki angreji 300 sal pahle ki angreji se purn taya bhinn alag hae.
Today's English is totally-quite different from the English of past 300 years.
टुडेज इंग्लिश इज टोटली-क्वाइट डिफरेंट फ्रॉम द इंग्लिश ऑफ़ पास्ट 300 इयर्स।  
अंग्रेजी का मूल लैटिन है और लैटिन संस्कृत से कुछ चीजों में मिलती जुलती है। 
angreji ka mul Latin hae aur Latin sanskrt se kuchh cheejon me milti hae.
Main form of English is
Latin and Latin 
resembles with 
Sanskrat in some
 forms-usages.
मेन फॉर्म ऑफ़ इंग्लिश इज लैटिन एंड लैटिन रिजेम्ब्लेंस विद संस्कृत इन सम फॉर्म्स-यूसेज। 
संस्कृत (हिन्दी- देव नागरी) दुनिया की एकमात्र भाषा है जिसको कम्प्यूटर पूरी तरह से समझ लेता है। 
sanstrat duniya ki ek matr bhasha hae jisko computer puri tarh samjhta hae.
Sanskrat (Hindi-Dev
 Nagri) is the only language of the world which has been understood grasped by the computer completely.
संस्कृत (हिंदी-देवनागरी) इज द ओनली लैंग्वेज ऑफ़ द वर्ल्ड विच हैज बीन अंडरस्टुड-ग्रेस्प्ड बाई द कंप्यूटर कम्पलीटली। 
कुछ खास-खास शब्दों-वाक्यों का नियमित अभ्यास करें। 
kuchh khas-khas shabdon-vakyon ka niymit abhyas kren.
Practice some special words and sentences (structures) regularly.
प्रैक्टिस सम स्पेशल वर्ड्स एंड सेन्टेंसेस-स्ट्रक्चर्स रेगुलरली। 
संकोच न करें। 
sankoch n kren.
Do not hesitate.
डू नॉट हेजिटेट। 























































Comments

Popular posts from this blog

ENGLISH CONVERSATION (2) हिन्दी-अंग्रेजी बातचीत

ENGLISH CONVERSATION (3) हिन्दी-अंग्रेजी बातचीत

ENGLISH CONVERSATION (1) अंग्रेजी हिन्दी बातचीत